INTRODUCTION- आज हम आपको डिप्रेशन से कैसे बचें उसके बारे में बताएंगे लेकिन सबसे जरूरी बात ये जान ले की डिप्रेशन से होने वाले रोग, डिप्रेशन से नुकसान, क्या डिप्रेशन का इलाज संभव है? डिप्रेशन से बाहर निकलने के उपाय क्या है?

डिप्रेशन से कैसे बचें हिंदी    How to avoid Depression In Hindi
How to avoid Depression


नमस्कार साथियों आज बहुत से लोग डिप्रेशन के शिकार है लेकिन उसे पता तक भी नहीं की डिप्रेशन का शिकार हो चुके हैं।

सबसे पहले हम डिप्रेशन के लक्षण को जानेंगे आखिर क्या है डिप्रेशन लक्षण ? यह देखकर नहीं आता है कि आप एक गरीब व्यक्ति है या अमीर व्यक्ति है आप एक छोटे व्यक्ति हैं या उम्र में बड़े व्यक्ति हैं, डिप्रेशन किसी भी स्थिति में आपको हो सकता है। अब डिप्रेशन के लक्षण को जानते हैं-

डिप्रेशन के लक्षण

उदासी का बना रहना 
सोच में Negitavitive का आना
काम में से रुचि खत्म हो जाना
खुद को दोषी मानना
थका या कमजोर रहना
कंसंट्रेशन का ना होना
नींद का ना आना 
आत्महत्या का विचार आना

डिप्रेशन क्यों होता है?

कभी बड़ी घटना का होना परिवार के किसी सदस्य को खो देना आर्थिक तंगी का समस्या होना या ऐसा ही जीवन के गंभीर बदलाव के कारण डिप्रेशन हो सकता है। 

हार्मोन में आये बदलाव के कारण प्रसव, थायराइड की समस्या आदि, ठंडी के दिनों में दिन का छोटा होना और चिड़चिड़ापन महसूस करना  कोई भी काम मे रुचि न लगना, इससे भी डिप्रेशन होता है।

मन के 3 गुण होते हैं नमो, रजो और सतो चिड़चिड़ापन क्रोध से मन में तमोगुणी हो जाता है। मन में तमोगुण बढ़ने से डिप्रेशन की समस्या आती है। 

डिप्रेशन हो तो क्या करें

सतोगुण को बढ़ाना है लेकिन यह सतोगुण कैसे बढ़ेगा यह कहां पर मिलेगा तो चलिए जानते हैं-

सतोगुण वह हर चीज जो आपके मन को शांत करती है आपको प्रसन्न करती है। चाहे वो भोजन हो कई बार आप भोजन ऐसा खाते हैं जिससे आपका मन शांत हो जाता है।
चाहे वो योग हो प्राणायाम या अनुलोम-विलोम करें।

ऐसा कोई म्यूजिक सुनें जैसे आपका मन शांत (सुकून मिले) हो वह डीजे वाला म्यूजिक नहीं सुनना है जिसे आप डिस्टर्ब ही हो।

एरोमा से भी मन को शांत किया जा सकता है।
या फिर मंत्र पढ़े या मंत्र जपे लेकिन अपने मन को किसी न किसी तरह से इंगेज रखे।
पेड़ पौधों के बीच में घूमे, डिप्रेशन में अकेले ना रहे।

डिप्रेशन में क्या खाना चाहिए?


सतोगुण को पढ़ाने के लिए दालचीनी और इलायची गर्म दूध में डालकर पिएं।
डिप्रेशन के समय में व्यक्ति अक्सर मीठी चीजों का सेवन करना अधिक पसंद करता है जैसे में चॉकलेट बिस्किट इत्यादि लेकिन चॉकलेट बिस्किट का ज्यादा सेवन नहीं करना चाहिए उसके बदले में आप खीर खाये। 

बादाम भी बहुत अच्छा है उसको पानी में भिगोकर पीस के दूध के साथ पी सकते हैं या फिर ऐसे भी कच्चा चबा कर सेवन सकते हैं।
रात को अखरोट, बादाम, किसमिस को भिगोकर सुबह में खाएं।

बेर का सेवन करने से डिप्रेशन से निजात पा सकते हैं।

हमें ताजा भोजन का सेवन करना है ना कि ज्यादा ठंडे या फिर फ्रीज में रखे हुए भोजन का सेवन नहीं करना है।

डिप्रेशन को दूर करने के कुछ आयुर्वेद दवाई ( Some Ayurveda medicines to relieve depression)


पंचकर्म, शिरोधारा, नस्य से डिप्रेशन कम हो जाता है।
मेडिकेटेड घी खाने से भी डिप्रेशन को दूर किया जा सकता है।

Final Thoughts- हमने जान लिया की डिप्रेशन से कैसे बचें डिप्रेशन के समय कैसा भोजन का सेवन करें इत्यादि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा अपने दोस्तों के साथ भी आर्टिकल को शेयर करें जिनसे उन्हें भी पता लग सके की क्या वह भी तो डिप्रेशन के शिकार नहीं है।





Post a Comment

नया पेज पुराने