अमीर लोग ही अमीर क्यों होते हैं ? Best Motivational Story in Hindi

अमीर बनना तो सब चाहते हैं लेकिन सब अमीर बन नहीं पाते हैं, आखिरकार अमीर लोग क्या करते हैं जो वह अमीर बन जाते हैं हमारे मन में कहीं न कहीं यह सवाल आते रहता है। अमीर लोग ही अमीर क्यों होते हैं? आख़िर अमीर लोग ही अमीर क्यों बनते हैं? यदि आपके मन में भी यह सवाल आ रहा है तो यह आर्टिकल आपके लिए कहीं ना कहीं ज्यादा फायदेमंद होने वाला है।

अमीर लोग ही अमीर क्यों होते हैं ? आखिरकार अमीर लोग क्या करते हैं? Best motivational story
अमीर लोग ही अमीर क्यों होते हैं ? 




पिछले आर्टिकल Spbambam.com में एक छोटी सी कहानी के माध्यम से सीखे थे जीवन की समस्याओं को कैसे सुलझाएं?

तो इस आर्टिकल में हम पढ़ेंगे अमीर लोग अमीर क्यों होते हैं ? किस तरह से अपने काम को करते हैं जो वह हमेशा आगे की ओर ही बढ़ते रहते हैं आर्टिकल का पूरा पढ़ें जिनसे की आप स्पष्ट रूप से समझ जाए अमीर लोग ही अमीर क्यों?

अमीर लोगों का परिवार शिक्षित होते हैं अमीर लोग हमेशा अमीर लोगों के श्रेणी में ही जाते हैं उनके दोस्त, रिश्तेदार सभी ज्यादातर अमीर होते हैं ।

   महान शिक्षित लोग कहते हैं-

 मिट्टी को जैसा सांचा में डाला जाएगा वह उसी तरह का आकार ले लेता है उसी तरह से इंसान भी जिस तरह के माहौल में घुले-मिले रहेंगे वह भी वैसा ही बन जाएंगे।


अमीर वही बनते हैं जो बिजनेस करते हैं जॉब करने वाले कभी अमीर नहीं बन पाते हैं वे 9:00 से 6:00 की खुटे में बंधे ही रह जाते हैं। और उसी में खुशी खुशी अपनी जिंदगी गुजार लेते हैं लेकिन बिजनेसमैन अपने बेटे को कभी जॉब करने की सलाह नहीं देते हैं उन्हें बिजनेस करने के लिए सिखाते हैं। 


गरीब अपने आय 90% अपने ऊपर खर्च कर लेते हैं लेकिन अमीर लोग अपनी आय को और बढ़ाने के लिए नया Startup करते हैं अपने बिजनेस को और बड़ा करते हैं इसीलिए अमीर लोग हमेशा अमीर होते जाते हैं।


अमीर लोग पैसे के लिए काम नहीं करते हैं, गरीब और मध्यवर्गीय लोग पैसे के लिए काम करते हैं, अमीरों के लिए पैसा काम करता है।

 

मध्यवर्गीय लोग धक्के खाने से टूट जाते हैं एक बार बिजनेस में असफल क्या हो गए बिजनेस करना ही छोड़ देते हैं लेकिन अगर तुमको जिंदगी सबक सिखाती हो तो इसे तुम्हें ज्यादा फायदा होगा अगर तुम ऐसा नहीं करते हो तो जिंदगी तुम्हें लगातार धक्का देती रहेगी। लोग दो चीज करते हैं कुछ लोग जिंदगी में धक्के को सहन करते चले जाते हैं, बाकी लोग गुस्सा हो जाते हैं और जिंदगी को धक्का दे देते हैं।

जो जिंदगी के थक्के को सहन कर लेता है वह सफल हो जाते हैं लेकिन जो जिंदगी को धक्का दे देते हैं उन्हें जिंदगी जीवन भर धक्का देती रह जाती है।

वे विकलांग गरीब विधवा सामाजिक कार्य पर ज्यादा निवेश करते हैं दान करते हैं इनसे उनका विज्ञापन चलता है और समाज में प्रतिष्ठित होते चले जाते हैं और अपने धन को छिपाने में इसे मदद मिलती है

और वहाँ से भी दान से ज्यादा रुपया कमा लेते हैं हमेशा अपने रुपया को बढ़ाने की ओर ध्यान देते हैं।

तो हमने जाना कि अमीर लोग  ही अमीर क्यों होते हैं? अमीर बनने के लिए धैर्य रखना अति आवश्यक होता है बार-बार और सफल होने के बाद भी अपने लक्ष्य पर टिके रहना यही अमीर का पहचान है।






Post a Comment

नया पेज पुराने